प्रयागराज

बाबा धाम में लगी भक्तों की भारी भीड़ कांवरियों में जोश 2 से 4 घंटे तक लगना पड़ रहा है भक्तों को लाइन में

बाबा धाम में लगी भक्तों की भारी भीड़ कांवरियों में जोश
2 से 4 घंटे तक लगना पड़ रहा है भक्तों को लाइन में

प्रयागराज दुर्गा मिश्रा की रिपोर्ट

कोरांव प्रयागराज सावन मास का तीसरा और पुरुषोत्तम मास का पहला सोमवार होने के कारण कांवरियों के साथ-साथ श्रद्धालुओं की भी भारी भीड़ बाबा नगरी में लग रही है इस समय उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश बिहार पश्चिम बंगाल नेपाल से लगातार श्रद्धालुओं का तांता भूत भावन भगवान भोलेनाथ के दर्शन के लिए भारी भीड़ बाबा के दर्शन हेतु देवघर में लग रही है श्रद्धालुओं और कांवरियों के लिए देवघर प्रशासन ने भी भारी चुस्त व्यवस्था की है देवघर से 8 किलोमीटर की दूरी पर कोठिया बस स्टैंड बनाया गया है जिससे श्रद्धालुओं को इस तपती धूप में 8 किलोमीटर पैदल चलकर के बाबा के दरबार में पहुंचना पड़ रहा है सर पर गठरी लेकिन बाबा के दर्शन की आस के साथ श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देवघर में उमड़ रही है जैसा कि सावन का महीना देवाधिदेव महादेव का होता है इस समय चाहूं और शिव मंदिरों में श्रद्धालु गण बाबा का दर्शन कर काशी विश्वनाथ का दर्शन करते हुए अपने अपने घरों की ओर भी प्रस्थान कर रहे हैं और घर पर पहुंचकर जप तप व्रत रुद्राभिषेक भी कर रहे हैं देवाधिदेव महादेव को सबसे प्रिय भांग धतूरा अक्षत पुष्प गंगाजल प्रसाद शमी पत्र बिल्वपत्र के साथ भूत भावन भगवान भोलेनाथ की आराधना में श्रद्धालु व्यस्त हैं इस समय चाहूं और का वातावरण शिवमय हो गया है कांवरिया और श्रद्धालु गण बोल बम का नारा है बाबा एक सहारा है के उद्घोष के साथ मंदिर की ओर बढ़ते जा रहे हैं इसी तरीके से काशी विश्वनाथ जो भगवान शिव के त्रिशूल पर बसी है वहां पर भी कांवरियों का जत्था भारी भीड़ के साथ काशी विश्वनाथ को जल अर्पण करने के लिए देश और प्रदेशों के कई हिस्सों से कांवरियों एवं श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ रही है प्रशासन को रूट डायवर्ट भी करना पड़ा लेकिन रूट डायवर्ट उनका भक्तों पर कोई असर नहीं हुआ भक्तगण शिवमय होकर भूत भावन भगवान भोलेनाथ के दर्शन के लिए घंटों लाइन में लगकर प्रतीक्षारत रह कर भगवान भोलेनाथ को जल अर्पण करते हुए दर्शन पूजन कर रहे हैं बाबा धाम से काशी विश्वनाथ दर्शन के लिए सुभाष के ओम प्रकाश शुक्ला मिश्रपुर से अरुण कुमार मिश्र सुरेंद्र कुमार मिश्र उर्फ सरोज दुर्गा प्रसाद मिश्र आशुतोष शर्मा सहित 50 श्रद्धालुओं ने काशी विश्वनाथ को जल अर्पण करते हुए मां विंध्यवासिनी विंध्याचल दर्शन के लिए प्रस्थान कर रहे हैं